राम जन्मभूमि परिसर में बने कुबेरेश्वर शिवलिंग का 28 साल बाद रुद्राभिषेक, महंत कमल नयन बोले – राम मंदिर निर्माण जल्द शुरू होगा

0
202

अयोध्या। श्री राम भगवान का मंदिर बनने से पहले बुधवार को जन्मभूमि परिसर में कुबेर टीला पर 28 साल बाद कुबेरेश्वर शिवलिंग का रुद्राभिषेक किया गया। इसके लिए मणिनाथ छावनी के महंत कमल नयन दास कुबेर टीला पहुंचे। दो घंटे यह अनुष्ठान चला। यह राम जन्मभूमि परिसर में स्थित है। यह भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण विभाग (ए एस आई) के सरंक्षण में है। महंत कमल नयन ने कहा – रुद्राभिषेक से मंदिर निर्माण में आने वाली बाधा को दूर करने और कोरोना बीमारी के खात्मे के लिए किया गया है।

महंत कमल नयन दास ने कहा, ‘राम मन्दिर के निर्माण की तैयारी राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट कर रहा है। मंदिर के लिए जमीन समतल करने का काम हो चुका है। जल्दी ही मंदिर का निर्माण कार्य शुरू हो, इसके लिए संत समाज और भगत बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं। मंदिर निर्माण कार्य शुरू होने से पहले प्रधानमंत्री द्वारा गर्भगृह स्थल का भूमि पूजन कार्यक्रम है। इसके लिए उन्हें पहले से ही आमंत्रित किया गया, लेकिन कोरोना संकट के चलते यह कार्यक्रम नहीं हो सका।

राम लला के दर्शन करने गए थे, तो जागी इच्छा

महंत कमल नयन दास ने बताया कि वह रामलला के दर्शन करने गये थे, तभी समतलीकरण का कार्य देखा और कुबेर टीले का शिवलिंग भी देखा, जो जर्जर हालत में है। उसी समय कुबेरेश्वर की रुद्राभिषेक करने की इच्छा जागी, इसीक्रम में आज पूजा करने आए हैं। मेरा तो पूजा का ही कार्यक्रम है। मन्दिर का कार्य पहले से ही चल रहा है। कोरोना संकट के चलते मंदिर निर्माण में देरी हो रही है।

PM के भूमि पूजन के बाद शुरू हो जाएगा मंदिर निर्माण

महंत कमल नयन दास ने बताया कि प्रधानमंत्री को भूमि पूजन के लिए समय मिलते ही मंदिर निर्माण कार्य तेजी से शुरू हो जाएगा। इसके लिए दिल्ली में मंथन के बाद तय हुआ है कि मंदिर निर्माण समिति के अध्यक्ष भूपेंद्र मिश्र पीएम से मिलकर उनका कार्यक्रम फाइनल करवाएंगे।

ताजा ख़बर जानने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें 👍🏻

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here