किसानों के लिए खुशखबरी : 36 हज़ार रुपये आएंगे हर साल, जल्द करें आवेदन

0
294
पीएम किसान पेंशन योजना

नई दिल्ली। केंद्र सरकार ने उन किसानों के लिए एक ऐसी योजना चालू की है जो केवल खेती के बल पर अपनी जीविका चलाते हैं। इस योजना के तहत देश के 20 लाख 41 हज़ार किसान लाभन्वित होंगे। देश की पहली किसान पेंशन योजना यानी पीएम किसान मानधन योजना में जिन अन्नदाताओं ने अपना पंजीकरण करवा दिया है। इस योजना में केंद्र सरकार किसानों को सालाना 36 हजार रुपये देगी।

मुख्यरूप से गरीब किसानों के लिए

इस योजना में पंजीकरण कराने वालों में 6 लाख 38 हजार से अधिक महिलाएं शामिल हैं। यह योजना ख़ासकर उन किसानों के लिए है जो सिर्फ खेती के भरोसे है या गरीब किसान है।

इस योजना में सबसे ज्यादा रजिस्ट्रेशन हरियाणा में सवा चार लाख है। दूसरे नंबर पर बिहार हैं जहां करीब तीन लाख अन्नदाताओं ने रजिस्ट्रेशन करवाया और झारखंड व उत्तरप्रदेश में ढाई लाख रजिस्टर्ड है। पीएम किसान मानधन योजना का लाभ लेने के लिए 26 से 35 साल के किसानों ने रजिस्ट्रेशन करवाया है।

यह भी पढ़े :- प्रवासी मजदूरों के खाते में आएंगे 6 हजार रुपये, सिर्फ ये 3 डॉक्युमेंट की जरूरत

इस योजना में कितना खर्च होगा पैसा
  • यह किसान पेंशन योजना 18 से 40 वर्ष तक की आयु वाले लघु एवं सीमांत किसानों के लिए है। इस योजना पंजीकरण के लिए 5 एकड़ ( 2 हेक्टेयर ) खेती की जमीन होनी चाहिए।
  • इस योजना के तहत कम से कम 20 साल या अधिकतम 40 साल तक 55 रुपये से लेकर 200 रुपये तक मासिक अंशदान करना होगा।
  • अगर कोई किसान 18 साल की उम्र में जुड़ते हैं तो उसे मासिक अंशदान 55 रुपये या सालाना 600 रुपये देना होगा।
कैसे होगा पंजीकरण
  • पीएम किसान पेंशन योजना का लाभ लेने के लिए किसानों को अपने नजदीकी कॉमन सर्विस सेंटर (CSS) पर जाकर अपना ऑनलाइन पंजीकरण करवाना होगा।
  • पंजीकरण के लिए आधार कार्ड, खतौनी की नकल, 2 फ़ोटो और बैंक पासबुक की जरूरत होगी।
  • पंजीकरण के लिए कोई भी फीस नहीं देनी होगी। किसानों के लिए पेंशन यूनिक नंबर औऱ पेंशन कार्ड बनाया जाएगा।
पेंशन योजना के लिए योग्यता
  • नेशनल पेंशन स्कीम, कर्मचारी राज्य बीमा निगम स्किम व कर्मचारी भविष्य निधि योजना से जुड़े लोग इस योजना के लिए पात्र नहीं होंगे।
  • किसान को 60 साल पूरी होने के बाद ही प्रति महीने 3000 रुपये मिलेंगे। पॉलिसी होल्डर की मृत्यु होने के बाद उसकी पत्नी को 50 फीसदी कर्म मिलेगी।
  • अगर कोई किसान इस योजना को बीचमें छोड़ना चाहता है तो उसका पैसा नहीं डूबेगा। स्किम छोड़ते समय तक जो पैसा जमा करवाया है उस पर बैंक के सेविंग एकाउंट के बराबर ब्याज मिलेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here