बड़ा खुलासा : मरीज को ‘बहरा’ बना सकता है Corona Virus

0
38
मरीज को 'बहरा' बना सकता है Corona Virus

नई दिल्ली। देश में कल एक दिन में सबसे ज्यादा कोरोना के 57 हजार 118 मामले आए हैं। साथ ही शनिवार को इस बीमारी के मरीजों की संख्या 17 लाख पहुँच गई है। स्वास्थ्य विभाग के जारी रिपोर्ट के अनुसार 24 घण्टों में सर्वाधिक 57,118 नए मामले सामने आए हैं। इसके साथ ही कुल संक्रमित लोगों की संख्या 17 लाख के करीब पहुँच गई है। आकड़ो के मुताबिक कुल संक्रमितों की संख्या 16 लाख 95 हजार 988 हो गई है। और 764 लोगों की मोत हो गई है। भारत में कुल मृतकों की संख्या 35 हजार 511 हो गई है। वही, अब तक 10, 94, 374 लोगों ने कोरोना को मात देकर ठीक होने में कामयाब रहे।

कोरोना वायरस बना सकता है बहरा

कोरोना वायरस फैलने का मुख कारण यह है कि यह महामारी हर दिन अपना लक्षण बदल रही है। हाल ही में स्वास्थ्य मंत्रालय ने 11 नए लक्षणों के बारे में बताया गया था। वहीं ब्रिटिश के मैनचेस्टर में अध्ययन में यह बात सामने आई है कि कोरोना वायरस हमारी सुनने की शक्ति कम हो सकती है। यानी कोविड-19 हमें ‘बहरा’ बना सकता है।

8 में से 1 मरीज की कम हो सकती है सुनने की क्षमता

इस शोध में पाया गया है कि कोरोना वायरस के संक्रमण से मरीज़ो की सुनने की क्षमता में कमी आ सकती है। अध्ययन के मुताबिक, आठ में एक मरीज की सुनने की शक्ति कम हो सकती है।

121 मरीजों पर हुआ अध्ययन

यूनिवर्सिटी ऑफ मैनचेस्टर के ऑडियोलॉजिस्ट ने 121 वयस्क कोरोना मरीजों पर अध्ययन किया गया है। कोरोना संक्रमण के कारण इन मरीजों को वीथेनशावे अस्पताल में भर्ती करवाए गए हैं।

आठ हफ्तों के बाद खत्म हो जाती है सुनने की क्षमता

अध्ययन के दौरान मरीज़ो को उनके सुनने की क्षमता के बारे में पूछा गया 121 लोगों में 16 ने कहा किहॉस्पिटल से डिस्चार्ज होने के 8 हफ्ते बाद सुनने की क्षमता बहुत कम हो गई। इनमें से 8 लोगों ने उनकी सुनने की शक्ति को बेहद खराब परस्थिति की बात कही। जबकि, आठ लोगों ने टिनिटस की शिकायत की। टिनिटस एक ऐसी दिक्कत है जिसमें लोगों को लगता है कि कान में कुछ बज रहा है। मरीजों को लगता है कि उसके कान में सीटी बज रही है या कुछ अलग का शोर बज रहा है।

क्या कहते हैं शोधकर्ता

इस अध्ययन में शामिल एक शोधकर्ता प्रो. केविन मुनरो ने कहा कि “यह मुमकिन है कि कोरोना इंसानों की श्रवण प्रणाली को नुकसान पहुंचाता है, खासकर कान के मध्य भाग को।” कान का मध्य भाग ट्यूब की तरह होता है जो कान के पर्दे से सुनने वाली तंत्रिका और गले तक जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here