फ्री WiFi के लालच में एक के बाद एक खाली हो रहे लोगों के बैंक खाते, RBI ने किया अलर्ट

0
200
फ्री WiFi के लालच में खाली हो रहे बैंक खाते

आभा न्यूज़। कोरोना काल में ऑनलाइन फ़्रॉड्स की कई खबरें सामने आती रही है। इनमें किसी को ईमेल के माध्यम से तो कभी फोन कॉल के जरिए लोगों के साथ ऑनलाइन फ़्रॉड किया गया। इन्हें लेकर पुलिस और बैंक ने लोगों को अलर्ट किया। लेकिन कुछ लोग मुफ्त का wifi के चक्कर में फ़्रॉड का शिकार हो जाते है। अगर आप भी किसी मुफ्त वाईफ़ाई कनेक्शन का उपयोग करते हैं तो सावधान हो जाए। आरबीआई ने इसे लेकर अलर्ट जारी किया है।

आरबीआई अक्सर बैंकों और आम ग्राहकों के साथ किसी तरह की धोखाधड़ी या ऑनलाइन फ़्रॉड न हो, इसके लिए अलर्ट जारी करता रहता है। इसी बीच RBI ने यूज़र्स को वाईफ़ाई के माध्यम से हो रहे फ़्रॉड्स से बचने के लिए कहा है। इस अलर्ट के अनुसार यूजर किसी मुफ्त वाईफ़ाई का उपयोग नहीं करने की सलाह दी है। रिजर्व बैंक के चीप जनरल योगेश दयाल में बताया कि बैंक ने लोगों के लिए एक खास अभियान भी शुरू किया है जिसका नाम है “RBI कहता है”

यूं होते हैं लोग फ्रॉड के शिकार

RBI ने अपने अलर्ट में कहा है कि धोखेबाज इन दिनों लोगों को फ्री वाईफ़ाई का लालच देकर शिकार बनाते हैं। लोग जैसे ही मुफ्त वाईफ़ाई के चक्कर में पड़ते हैं, तो वो इन धोखेबाज़ों के शिकार बन जाते हैं और उनके बैंक खाते में से रकम खाली हो जाती है। अपने शिकार के लिए धोखेबाज लुभावने ऑफर्स का लाभ देते है।

इतना ही नहीं KYC की जरूरतों को पूरा करने जैसे फर्जी बहाने लेकर धोखेबाज बैंक की वेबसाइट की हूबहू नकल करते हुए लोगों को ठगा जा रहा है। ग्राहकों को मोबाईल, ईमेल, ई – वॉलेट में अपना बैंकिंग डेटा ना रखने की सलाह दी जाती है। साथ ही किसी को अपना ओटीपी, पिन या सीवीवी नम्बर किसी को न बताए।

कोरोना के नाम पर हो रहा धोखा

हाल ही में देश के सबसे बड़ी बैंक एसबीआई ने भी लोगों को सायबर क्राइम की चेतावनी दी है। बैंक ने कहा है कि अगर आपके पास फ्री कोविड टेस्ट के नाम की कोई मेल आए तो उस पर क्लिक ना करें वरना आप सायबर अटैक का शिकार हो सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here